असाध्य रोगों का भी होम्योपैथिक में है इलाज:- धर्माचार्य ओमप्रकाश पाण्डेय अनिरुद्ध रामानुज दास

प्रतापगढ़ अंबेडकर चौराहे के पास श्री राधे कृष्णा डिवाइन क्लीनिक का वेद मंत्रों के बीच उद्घाटन करते हुए धर्माचार्य ओमप्रकाश पांडे अनिरुद्ध रामानुज दास ने कहा कि होम्योपैथिक एक प्राकृतिक चिकित्सा पद्धति है।आज इसका बहुत ही तेजी से विकास हो रहा है।

होम्योपैथिक के द्वारा कुछ ऐसी असाध्य बीमारियों का भी इलाज होता है जो अन्य पद्धति के द्वारा संभव नहीं है। इसका प्रयोग किसी भी व्यक्ति नवजात शिशु वृद्ध एवं गर्भवती स्त्रियों के लिए हो सकता है। होम्योपैथिक दवाएं दुनियाभर में उपयोग में लाई जाती हैं किंतु विशेषकर भारत में इसे काफी लोग पसंद करते हैं।होम्योपैथी में मनुष्य को अंगों का एक समूह नहीं बल्कि एक इकाई मानकर उसका पूरा इलाज किया जाता है। इसलिए शरीर के अलग-अलग भागों का इलाज करने के लिए अलग-अलग विशेषज्ञों के पास जाने की आवश्यकता नहीं पड़ती। इसका साइड इफेक्ट भी नहीं पड़ता है।

महिलाएं आज हर क्षेत्र में आगे की ओर बढ़ रही हैं। डॉक्टर सिमरन उपाध्याय और डॉक्टर राजेश्वर प्रीतम उपाध्याय ने यहां पर क्लीनिक को खोल कर जनमानस की सेवा करने का निर्णय लिया है। इसके लिए मैं इन्हें साधुवाद करते हुए उज्जवल भविष्य की कामना करता हूं।


कार्यक्रम में मुख्य रूप से पंडित रामचंद्र उपाध्याय लीलावती उपाध्याय राजेंद्र कौशल छवि कौशल शिवाकांत मिश्रा एडवोकेट अनिल प्रताप त्रिपाठी प्रेम कुमार त्रिपाठी एडवोकेट “प्रेम” दिलीप शुक्ला एडवोकेट रामबाबू जायसवाल विकास पांडे बृजेश सिंह रामप्रताप उपाध्याय कप्तान उपाध्याय मोहम्मद कलीम अनूप सिंह मुन्ना सिंह माया त्रिपाठी हजारी उपाध्याय प्रेम शंकर शुक्ला सुनील उपाध्याय आशुतोष उपाध्याय रामवीर उपाध्याय सहित भारी संख्या में लोग उपस्थित होकर डॉक्टर सिमरन उपाध्याय के उज्जवल भविष्य की कामना किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Covid Updates