VIDEO: एक सप्ताह पूर्व कासगंज में मिली अज्ञात महिला की हत्या का खुलासा, देवर ही निकला भाभी का हत्यारा, अभियुक्त गिरफ्तार

रिपोर्ट सचिन उपाध्याय

कासगंज। जनपद के शहर कोतवाली एक अज्ञात महिला का शव मिला था जिसकी पत्थर से कुचलकर हत्या की गई थी । उक्त शव को पुलिस द्वारा कब्जे में लेकर थाना कोतवाली कासगंज में अपराध संख्या 54/21 धारा 302,201 भादवि बनाम अज्ञात के पंजीकृत कराते हुए महिला की शिनाख्त एवं घटना में संलिप्त अज्ञात अभियुक्त की गिरफ्तारी हेतु पुलिस अधीक्षक कासगंज मनोज कुमार सोनकर द्वारा अपर पुलिस अधीक्षक कासगंज आदित्य प्रकाश वर्मा के निर्देशन एवं क्षेत्राधिकारी नगर आर0के0तिवारी के नेतृत्व में एस0ओ0जी0, सर्विलांस एवं स्थानीय पुलिस की टीमें गठित की गई ।


गठित टीमों द्वारा किये गये निरन्तर प्रयासों एवं पतारसी, सुरागरसी व डिजिटल साक्ष्यों के आधार पर महिला की शिनाख्त श्रीमती ऊषा पत्नी श्री भगवती प्रसाद वर्तमान पत्नी ज्ञान सिंह नि0 ज्वालापुरी थाना कोतवाली कासगंज के रूप में की गई । पुलिस द्वारा महिला की शिनाख्त किये जाने के उपरान्त घटना में संलिप्त अज्ञात अभियुक्त की गिरफ्तारी हेतु सार्थक प्रयास किये जाने लगे । इन्हीं सार्थक प्रयासों के क्रम में अभियुक्त ज्ञान सिंह पुत्र शिवनारायण सिंह (वर्तमान पति मृतका) नि0 ज्वालापुरी थाना कोतवाली जनपद कासगंज प्रकाश में आया जिसे मुखबिर की सूचना पर दिनांक 26.01.2021 को सायं रोडवेज बस स्टैण्ड के पास बने सार्वजनिक शौचालय के पीछे होकर गन्दा नाला को जाने वाले रास्ते पर गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त की गई । गिरफ्तारशुदा अभियुक्त की निशानदेही पर मुकदमा उपरोक्त की घटना से सम्बन्धित आलाकत्ल एक अदद सीमेन्ट की इण्टर लाकिंग ईट खून से सनी हुयी जिस पर बाल भी लगे है बरामद की गयी ।

अभियुक्त द्वारा पूछताछ में बताया गया कि मृतका ऊषा देवी को मेरा भाई भगवती प्रसाद पश्चिम बंगाल से शादी करके लाया था । कुछ समय पश्चात मृतका ऊषा देवी के साथ मैने शादी कर ली तथा उसे लेकर पहले बदायूं फिर उसके बाद गाजियाबाद में जाकर रहने लगा । घटना से करीब 3–4 दिन पूर्व ही ऊषा देवी पूर्व पति भगवती प्रसाद के यहां कासगंज में आकर रहने लगी मैने ऊषा देवी को साथ चलने के लिये कहा तो वह तत्काल चलने को तैयार नहीं थी एवं मुझसे झगडने लगी । पहने भी वह झगडा करती रहती थी । रोज–रोज के झगडे से तंग आकर बहाने से ब्लॉक परिसर में ले जाकर बातचीत करते समय मेरे द्वारा पास पडी सीमेन्ट की ईंट से कुचलकर हत्या कर दी गई ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.