परीक्षा पे चर्चा: शाम सात बजे छात्रों, शिक्षकों और अभिभावकों के साथ संवाद करेंगे पीएम

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज शाम 7 बजे ‘परीक्षा पे चर्चा’ कार्यक्रम के तहत छात्रों, शिक्षकों और अभिभावकों के साथ संवाद करेंगे। कोविड महामारी की वजह से इस बार कार्यक्रम वर्चुअल रूप से आयोजित किया जाएगा। परीक्षा पे चर्चा के दौरान प्रधानमंत्री अपने विचार रखेंगे और बिना तनाव लिए परीक्षाओं की तैयारी के सुझाव देंगे।

छात्रों के परीक्षा के तनाव दूर करने और मनोबल को बढ़ाने में करेगा मदद

कोविड काल में बच्चों की पढ़ाई सबसे ज्यादा प्रभावित हुई है, जहां स्कूल अभी तक ठीक तरह से खुल भी नहीं पाए हैं, वहीं कई बच्चें परीक्षा को लेकर तनाव में है। ऐसे में परीक्षा पे चर्चा ऐसे छात्रों का मनोबल बढ़ाने के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण हैं, जहां बच्चे न सिर्फ अपने सवाल कर सकेंगे बल्कि अपनी समस्याओं को भी सामने रख सकते हैं।

कार्यक्रम को लेकर पीएम मोदी ने कहा कि परीक्षा योद्धाओं, अभिभावकों और शिक्षकों के साथ नए प्रारूप में यादगार चर्चा होगी जिसमें व्यापक विषयों पर कई रोचक सवाल होंगे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को ट्वीट कर कहा कि परीक्षा पे चर्चा कार्यक्रम का पहला वर्चुअल संस्करण काफी रोमांचक होने वाला है। उन्होंने कहा कि इसमें छात्रों के साथ साथ अभिभावकों और शिक्षकों के लिए भी कुछ ना कुछ होगा।

मोदी ने ट्वीट में लिखा, “पहले वर्चुअल “परीक्षा पे चर्चा”-2021 में एक रोमांचक बातचीत होने जा रही है, जिसमें विविध विषयों को शामिल किया गया है। आप एक एग्जाम वॉरियर्स, माता-पिता या शिक्षक हो सकते हैं … सभी के लिए कुछ है। आइये हम परीक्षा को तनाव मुक्त बनाते हैं!आज रात 7 बजे देखें।”

81 देशों के छात्रों ने कराया रजिस्ट्रेशन

वहीं आज होने वाले कार्यक्रम को लेकर शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने कहा है कि परीक्षा पे चर्चा कार्यक्रम विद्यार्थियों को परीक्षा के तनाव दूर करने और उनका मनोबल बढ़ाने में मदद करेगा। उन्होंने कहा कि यह पहला अवसर है कि जब 81 देशों के विद्यार्थियों ने रचनात्मक लेखन प्रतियोगिता में भी भाग लिया।

बता दें, परीक्षा पे चर्चा से पहले 17 फरवरी से 14 मार्च के दौरान विभिन्न विषयों पर 9वीं से 12वीं कक्षा के बच्चों, शिक्षकों और अभिभावकों के लिए ऑनलाइन रचनात्मक लेखन प्रतियोगिता का आयोजन किया गया, जिसमें लगभग 14 लाख प्रतिभागियों ने भाग लिया। रचनात्मक लेखन प्रतियोगिता में 10.5 लाख छात्रों, 2.6 लाख शिक्षकों और 92 हजार अभिभावकों ने उत्साहपूर्वक भाग लिया। इसके अलावा पहली बार 81 देशों के छात्रों ने भी ‘पूर्व-परीक्षा पे चर्चा’ रचनात्मक लेखन प्रतियोगिता में भाग लिया है। परीक्षा पे चर्चा का यह चौथा संस्करण है। उल्लेखनीय है कि प्रधानमंत्री ने पहली बार स्कूली छात्रों के साथ ‘परीक्षा पे चर्चा’ कार्यक्रम को 16 फरवरी, 2018 को दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में संबोधित किया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published.